अमेरिकी संविधान के 25वें संशोधन पर बोले ट्रंप- ‘बाइडेन प्रशासन को हो सकती है परेशानी’


अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पास अब राष्ट्रपति के तौर पर मात्र सात दिन से भी कम समय बचा है. संसद में उनके खिलाफ दूसरी बार महाभियोग प्रस्ताव लाने की कवायद जारी है. फिलहाल उन्होंने अमेरिकी संसद भवन में हिंसक भीड़ के घुसने संबंधी घटना की जिम्मेदार लेने से इंकार कर दिया है. कैपिटल बिल्डिंग में हिंसा के बाद पहली बार सार्वजनिक रूप से सामने आकर ट्रंप ने 25 वां संशोधन को लेकर कहा है कि इससे आने वाले समय में जो बाइडेन और बाइडेन प्रशासन को परेशानी हो सकती है.

ट्रंप ने कहा, ’25 वां संशोधन मेरे लिए शून्य जोखिम का है, लेकिन जो बाइडेन और बाइडेन प्रशासन को परेशान करने के लिए वापस आ जाएगा.’ ट्रंप ने महाभियोग को लेकर कहा कि महाभियोग की संभावनाओं की वजह से देश में ‘खासा गुस्सा पैदा’ हो रहा है लेकिन वह ‘हिंसा नहीं’ चाहते हैं. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ‘महाभियोग का छींटा हमारे देश के इतिहास में सबसे बड़ी और सबसे शातिर चुड़ैल के शिकार की निरंतरता है.’

महाभियोग को लेकर आज वोटिंग

प्रतिनिधि सभा में ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की कार्यवाही शुरू हो चुकी है. बुधवार को इस बारे में लाए गए प्रस्ताव पर वोटिंग होगी. इस महाभियोग प्रस्ताव में निवर्तमान राष्ट्रपति पर छह जनवरी को ‘राजद्रोह के लिए उकसाने’ का आरोप लगाया गया है.

इसमें कहा गया है कि ट्रंप ने अपने समर्थकों को कैपिटल बिल्डिंग (संसद परिसर) की घेराबंदी के लिए तब उकसाया, जब वहां इलेक्टोरल कॉलेज के मतों की गिनती चल रही थी और लोगों के धावा बोलने की वजह से यह प्रक्रिया बाधित हुई. इस घटना में एक पुलिस अधिकारी समेत पांच लोगों की मौत हो गई थी.

जो बाइडन लेंगे 20 जनवरी को राष्ट्रपति पद की शपथ

सांसद जैमी रस्किन, डेविड सिसिलिने और टेड लियू ने ट्रंप के खिलाफ महाभियोग का प्रस्ताव तैयार किया है. इसे सोमवार को पेश किया गया था. महाभियोग प्रस्ताव में ट्रंप पर अपने कदमों के जरिए छह जनवरी को ‘‘ राजद्रोह के लिए उकसाने’’ का आरोप लगाया गया है. कैपिटल बिल्डिंग पर हुए हमले में पांच लोगों की मौत हो गई थी. बता दें कि एक हफ्ते बाद 20 जनवरी को डेमोक्रेटिक पार्टी के जो बाइडन राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे.

इसे भी पढ़ेंः
Republic Day: बांग्लादेश सेना की 122 सदस्य की टुकड़ी दिल्ली पहुंची, गणतंत्र दिवस परेड में लेगी हिस्सा

ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन ने चीन को ठहराया कोरोना वायरस के लिए जिम्मेदार



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *