दिवंगत अभिनेता आसिफ बसरा साल 2007 में आई इम्तियाज अली की फिल्म ‘जब वी मेट’ में एक छोटी, लेकिन महत्वपूर्ण भूमिका में नजर आए थे. फिल्मकार इम्तियाज ने पुरानी बातों को याद करते हुए कहा कि फिल्म में शामिल किरदार को निभाने के बारे में उन्हें आसिफ का ख्याल एक ऐसे अभिनेता के तौर पर आया, जो एक छोटी सी भूमिका को भी बेहतरी से निभाकर उसमें जान फूंक सकने की काबिलियत रखते हैं. आसिफ फिल्म में स्टेशन पर मौजूद एक वेंडर के किरदार में नजर आए थे.

इम्तियाज कहते हैं, “मेरे लिए आसिफ एक विशेष फिल्म का विशेष हिस्सा हैं. वह एक शानदार अभिनेता हैं. उनके निधन की खबर ने मुझे अंदर से हिलाकर रख दिया है. वह एक निपुण कलाकार थे. उनके साथ काम करना आसान था. उनका जाना वास्तव में एक क्षति है.”

उन्होंने आगे कहा, “मुझे याद है, ‘जब वी मेट’ बनाने के दौरान मैं एक कुशल अभिनेता चाह रहा था, जो समझ सके कि मैं क्या कहना चाह रहा हूं और उसे उस अनुरूप पर्दे पर उतार सके. मैं उस किरदार के माध्यम से एक साथ दो बातें दिखाना चाहता था – एक दुष्ट आदमी और साथ में मसखरी. मैं चाहता था कि किरदार के माध्यम से वह घबराहट भी पैदा करे और देखने में मजेदार भी लगे. इस किरदार को निभाने के लिए मैं एक कुशाग्र अभिनेता को चाह रहा था, जिसमें दिमाग हो और किरदार को सही से निभाने की काबिलियत भी हो.”

उन्होंने अपनी बात को जारी रखते हुए यह कहा, “मैं आसिफ को मुंबई में थिएटर के माध्यम से जानता हूं. हमारी मुलाकात इसी के चलते हुई है. ‘जब वी मेट’ के बाद हमने साथ में काम नहीं किया है. कुछ ऐसा मौका नहीं मिला है, लेकिन मैंने उनकी बाकी फिल्में देखी हैं. वह एक ऐसे अभिनेता थे, जो अपनी कलाकारी से दर्शकों को पर्दे से जोड़कर रखते थे. मैं फिल्मों में उन्हें मिस करूंगा.”



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here