वाशिंगटनः अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चुनाव में हार के बाद रक्षा सचिव के पद से मार्क एस्पर को हटा दिया है. मार्क एस्पर की जगह क्रिस्टोफर मिलर को नया रक्षा सचिव बनाया गया है. मिलर फिलहाल राष्ट्रीय आतंकवाद निरोधक केंद्र के निदेशक के रूप में कार्य कर रहे थे. डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को ट्वीट करके इसकी जानकारी दी है.

ट्रंप ने ट्वीट में कहा कि राष्ट्रीय आतंकवाद निरोधी केंद्र के निदेशक क्रिस्टोफर मिलर को तत्काल प्रभाव से अंतरिम रक्षा मंत्री बनाया जाता है .एस्पर को टर्मिनेट किया जा है.

 

गौरतलब है ट्रंप और एस्पर के संबंधों में काफी समय से खटास है. दोनों में सैन्य अड्डों के नामों में बदलाव को लेकर भी मतभेद सामने आये थे.

माना जा रहा है कि ट्रंप की तरफ से ये मार्क एस्पर और ट्रंप के बीच फैसला सैन्य अड्डो के नाम बदलने, नौसैनिकों और सैन्य कर्मियों का इस्तेमाल करने के एस्पर के सुझाव को लेकर टकराव के बाद लिया गया है.

ट्रंप पर बढ़ रहा है सत्ता हस्तांतरण का दबाव

डोनाल्ड ट्रंप पर जनवरी में नए प्रशासन के कार्यकाल संभालने पर सत्ता का सहज हस्तांतरण सुनिश्चित करने के लिए देश के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन की टीम के साथ सहयोग करने का दबाव बढ़ रहा है. ‘जनरल सर्विसेज एडमिनिस्ट्रेशन’ (जीएसए) पर बाइडेन को निर्वाचित राष्ट्रपति के रूप से औपचारिक रूप से मान्यता देने की जिम्मेदारी है. इसके बाद सत्ता हस्तांतरण की प्रक्रिया आरंभ होगी.

एजेंसी की प्रशासक एमिली मर्फी ने अभी तक यह प्रक्रिया आरंभ नहीं की है और न ही यह बताया है कि वह कब ऐसा करेंगी. एमिली की नियुक्ति ट्रंप ने की थी. व्हाइट हाउस में पिछले तीन कार्यकालों में शामिल रहे एक द्विदलीय समूह ने भी ट्रंप से ‘‘चुनाव के बाद सत्ता हस्तांतरण की प्रक्रिया तत्काल’’ आगे बढ़ाने की अपील की है.

यह भी पढ़ें-

अमेरिका की नव निर्वाचित उप-राष्ट्रपति कमला हैरिस ने कहा- ‘मैं और बाइडेन हर चुनौती से निपटने के लिए तैयार’

जो बाइडन की कोरोना वायरस टास्क फोर्स के सह-अध्यक्ष बने भारतीय-अमेरिकी विवेक मूर्ति





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here