नई दिल्लीः दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने रविवार को कहा कि राजधानी में कोरोना संक्रमण तीसरे दौर के चरम पर है और मामलों की संख्या देखकर लगता है कि यह अब तक का सबसे बुरा चरण है. मंत्री ने कहा कि सरकार ने दिल्ली के अस्पतालों में कोविड-19 रोगियों के लिये बिस्तरों की संख्या बढ़ा दी है, लेकिन होटलों और बारातघरों की सेवाएं लेने की अभी कोई योजना नहीं है.

जैन ने कहा, ‘दिल्ली में कोविड-19 का तीसरा दौर चरम पर है. मामलों की संख्या से प्रतीत होता है कि यह अब तक का सबसे बुरा दौर है. लेकिन जल्द ही मामलों में कमी आनी शुरू हो जाएगी.’ मंत्री ने कहा कि मामलों में वृद्धि की वजह तेजी से जांच किया जाना और संक्रमितों का पता लगाना है.

उन्होंने कहा कि लोगों द्वारा बरती जा रही लापरवाही मामलों में तेज वृद्धि का एक प्रमुख कारण है. जैन ने कहा, ‘कुछ लोगों को लगता है कि अगर वे मास्क नहीं पहनेंगे तो भी उन्हें कुछ नहीं होगा. वे गलत सोच रहे हैं. जब तक कोविड-19 रोधी टीका तैयार नहीं हो जाता, तब तक मास्क ही एकमात्र दवा है. ‘

बता दें कि देशभर में अभी तक कोरोना संक्रमण 85 लाख के आंक़ड़े को पार कर गया है. देशभर में अभी तक 85 लाख 7 हजार 754 संक्रमित सामने आए हैं. जिसमें से 78 लाख 68 हजार 968 संक्रमित लोग इलाज के बाद ठीक हुए हैं. वहीं अभी तक 1 लाख 26 हजार 121 संक्रमित लोग कोरोना संक्रमण के कारण अपनी जान गंवा बैठे हैं. वहीं वर्तमान में 5 लाख 12 हजार 665 संक्रमित लोगों का इलाज चल रहा है.

इसे भी पढ़ेंः
सबसे युवा सीनेटर से सबसे उम्रदराज अमेरिकी राष्ट्रपति बनने का जो बाइडेन का सफर

US Elections: अमेरिका के नाम पहले संबोधन में बोलीं कमला हैरिस – मैं इस पद पर पहली महिला हूं, आखिरी नहीं



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here