देश में फिर तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले, पिछले 24 घंटों में 14 हजार से ज्यादा केस आए सामने


भारत में कोरोना के मामले एक बार फिर बढ़ने लगे है. भारत में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 1,09,91,651 हो गई है. पिछले 24 घंटो में 14,264 नए मामले सामने आए है. इस संक्रमण से पिछले 24 घंटो में 90 लोगों की मौत हुई है जबकि 11,667 मरीज ठीक हुए है.

भारत मे इस संक्रमण से अब तक 1,06,89,715 मरीज ठीक हुए है जबकि 1,56,302 मरीजों की मौत हुई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक  देश अब कुल एक्टिव केस यानी ऐसे लोग जो कोरोना से संक्रमित है उनकी संख्या 1,45,634 है. जबकि शनिवार ये संख्या 1,43,127 थी। यानी संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है. भारत पिछले कुछ दिनों से एक्टिव केस लोड में बढ़ोतरी देखी जा रही है. ये भारत में सामने आए कुल  संक्रमित मामलों का 1.32% है.

74 फीसदी एक्टिव केस महाराष्ट्र और केरल से

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और जम्मू कश्मीर में पिछले कुछ दिनों से लगतार संक्रमण के मामले सामने आ रहे है. वहीं 74 फीसदी एक्टिव केस भारत के दो राज्यओं में है. ये राज्य है महाराष्ट्र और केरल. केरल में 58,883 एक्टिव केस है जबकि महाराष्ट्र में 49,630.

केरल में पिछले चार हफ्तों में, औसत साप्ताहिक मामलों में 42,000 से अधिक 34,800 के निचले स्तर के बीच उतार-चढ़ाव आया है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक केरल में, अलाप्पुझा जिला विशेष चिंता का कारण है जहां साप्ताहिक सकारात्मकता दर यानी पाजिटिविटी राय बढ़कर 10.7% हो गई है और साप्ताहिक मामले 2,833 हो गए हैं.

पिछले चार हफ्तों में साप्ताहिक मामलों में 1300 से 1682 तक वृद्धि देखी गई है

इसी तरह महाराष्ट्र में, पिछले चार हफ्तों में, साप्ताहिक मामलों ने बढ़त दिखाई है और 18,200 से बढ़कर 21,300 हो गए हैं. जबकि साप्ताहिक सकारात्मकता यानी वीकली पाजिटिविटी रेट भी 4.7% से बढ़कर 8% हो गई है. चिंता का विषय मुंबई उपनगरीय क्षेत्र हैं जहां साप्ताहिक मामलों में 19% की वृद्धि हुई है. नागपुर, अमरावती, नासिक, अकोला और यवतमाल में साप्ताहिक मामलों में क्रमश 33%, 47%, 23%, 55% और 48% की वृद्धि हुई है.

केरल और महाराष्ट्र की तरह पंजाब में, पिछले चार हफ्तों में, साप्ताहिक सकारात्मकता दर 1.4% से 1.6% तक बढ़ गई है. जबकि पिछले चार हफ्तों में साप्ताहिक मामलों में 1300 से 1682 तक वृद्धि देखी गई है. अकेले एसबीएस नगर के एक जिले में, साप्ताहिक सकारात्मकता दर 3.5% से 4.9% हो गई है और साप्ताहिक मामले 165 से 364 से दोगुने से अधिक हो गए हैं.

बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए केंद्र ने सभी राज्यों चिट्टी लिखकर पांच प्रमुख क्षेत्रों पर काम करने की सलाह दी है. ये है

  1. आरटी-पीसीआर परीक्षणों के अनुपात को बढ़ाकर समग्र परीक्षण संख्याओं में सुधार करें.
  2. एंटीजन टेस्ट में नेगेटिव रिपोर्ट आने के बाद भी RT-PCR टेस्ट करें ताकि कोई संक्रमित व्यक्ति ने छूटे.
  3. चयनित जिलों में सख्त और व्यापक निगरानी के साथ-साथ कड़े नियंत्रण पर भी ध्यान दें.
  4. जीनोम सिक्वेंसिंग के जरिये वायरस के स्ट्रेन में म्युटेशन पर नज़र रखे और क्लस्टर पर ध्यान दें.
  5. उच्च मृत्यु की सूचना देने वाले जिलों में क्लीनिकल मैनेजमेंट पर ध्यान ज्यादा केंद्रित करें.

पिछले 24 घंटो में जो नए मामले सामने आए है उनमें से 85.61% मामले सिर्फ पांच राज्यों में है. ये राज्य है महाराष्ट्र, केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु और पंजाब. महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा नए संक्रमण के मामले रिपोर्ट हुए है, यहां 6,281 नए मामले सामने आए है. इसके बाद केरल में 4,650, कर्नाटक में 490, तमिलनाडु 483 और पंजाब में 352 नए मामले सामने आए। वहीं दो राज्यों – महाराष्ट्र और केरल में पिछले 24 घंटों में 77% नए मामले सामने आए हैं.

इसी तरह 80 फीसदी कोरोना संक्रमण से मौत के माले पांच राज्यों में है. ये राज्य है महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, कर्नाटक और तमिलनाडु. वहीं राहत की बात है की पिछले 24 घंटों में 22 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने किसी भी कोरोना संक्रमण से मौत की खबर नहीं है. ये राज्य है  गुजरात, ओडिशा, J & K (UT), आंध्र प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, गोवा, झारखंड, पुदुचेरी, असम, मेघालय, लक्षद्वीप, मणिपुर, मिजोरम, सिक्किम, लद्दाख, नागालैंड, अंडमान और निकोबार द्वीप, त्रिपुरा, उत्तराखंड, अरुणाचल प्रदेश, दमन डीयू और दादरा नगर और हवेली.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक भारत मे कोरोना से ठीक होने की दर यानी रिकवरी रेट 97.25% है जबकि मृत्यु दर 1.42%

यह भी पढ़ें.

Coal Smuggling Case Live: कोयला घोटाला मामले में अभिषेक बनर्जी की पत्नी से पूछताछ के लिए उनके घर पहुंची सीबीआई की टीम

गुजरात के सीएम विजय रूपाणी की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव, 15 फरवरी को हुई थी संक्रमण की पुष्टि



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *