प्याज के दाम पर 15 दिन बाद ही लग पाएगी लगाम, मार्च में उतरेगी रबी फसल


Photo:FILE

प्याज के दाम पर 15 दिन बाद ही लग पाएगी लगाम, मार्च में उतरेगी रबी फसल

नई दिल्ली: प्याज का दाम फिर आसमान चढ़ गया है। देश की राजधानी दिल्ली और आसमपास के इलाके में प्याज का खुदरा भाव बीते तीन सप्ताह से 50 रुपये के करीब चल रहा है, जो अब 60 रुपये से उपर चला गया है। प्याज की महंगाई से फिलहाल राहत मिलने के आसार नहीं है। कारोबारी बताते हैं कि कम से कम 15 दिन और प्याज दाम गिरने के आसार नहीं है, क्योंकि रबी फसल मार्च में ही बाजार में उतरेगी। एशिया में फलों और सब्जियों की सबसे बड़ी मंडी के रूप में शुमार राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली स्थित आजादपुर मंडी में शनिवार को प्याज का थोक भाव 12.50 रुपये से 45 रुपये प्रति किलो था, जबकि मॉडल रेट 31.25 रुपये प्रति किलो था। 

महाराष्ट्र के प्याज उत्पादक क्षेत्रों की प्रमुख मंडियों में भी भाव 20 रुपये से 43 रुपये प्रति किलो दर्ज किया गया। नासिक का प्याज सबसे उंचे भाव बिक रहा है। वजह, नासिक प्याज की आवक कम हो रही है। देश में प्याज का उत्पादन तकरीबन सभी क्षेत्रों में होता है, लेकिन महाराष्ट्र नासिक प्रमुख प्याज उत्पादक क्षेत्र माना जाता है। कारोबारी बताते हैं नासिक के प्याज की क्वालिटी अच्छी होती और यह प्याज ज्यादा दिनों तक टिकता है, मतलब खराब नहीं होता है।

हॉर्टिकल्चर प्रोड्यूस एक्सपोटर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अजित शाह ने बताया, “इस समय आवक तकरीबन 30 फीसदी कम हो रही है, जिसके कारण बीते सप्ताह में प्याज का भाव करीब 10 रुपये प्रति किलो बढ़ गया है। उन्होंने कहा कि अगले एक पखवाड़े में प्याज की नई फसल उतरेगी जिसके बाद दाम में गिरावट आएगी।” दिल्ली की आजादपुर मंडी के कारोबारी व पोटैटो एंड अनियन मर्चेट एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी राजेंद्र शर्मा ने भी बताया कि रबी सीजन की फसल की आवक बढ़ने पर भी प्याज के दाम पर लगाम लगेगी। उन्होंने कहा कि प्याज के दाम में गिरावट के लिए अभी 15 से 20 दिन और इंतजार करना होगा।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *