Photo:PTI

दरभंगा एयरपोर्ट पर रविवार से परिचालन शुरू हो गया हैमिथिला क्षेत्र के लोग कई वर्षों से यहां हवाई अडडे की मांग कर रहे थे

नई दिल्‍ली। उत्‍तर बिहार के लोगों के लिए खुशखबरी है। यहां दरभंगा एयरपोर्ट पर रविवार से परिचालन शुरू हो गया है। मिथिला क्षेत्र के लोग कई वर्षों से यहां हवाई अड्डे की मांग कर रहे थे। यहां के लोगों को कई घंटों की यात्रा के बाद पटना पहुंचकर विमान पकड़ना पड़ता था। स्‍पाइसजेट द्वारा यहां पहली फ्लाइट बेंगलुरू से यहां पहुंची। इस पर पानी की बौछार कर स्‍वागत किया गया। इस विमान से आने वाले यात्रियों का स्‍वागत मिथिला पग और फूलमाला पहनाकर किया गया।

इंडियन ऑयल ने दरभंगा में खोला 120वां विमान ईंधन स्टेशन

सार्वजनिक क्षेत्र की इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन ने बिहार के दरभंगा में अपना 120वां विमान ईंधन स्टेशन शुरू किया। कंपनी ने सोमवार को एक बयान में कहा कि इस ईंधन स्टेशन का उद्धाटन स्पाइसजेट के दिल्ली जाने वाले एक विमान में भरकर किया। इसी के साथ इस हवाईअड्डे से उड़ानों का परिचालन भी शुरू हो गया।

इंडियन ऑयल की देश के ईंधन बाजार में 40 प्रतिशत हिस्सेदारी है। क्षेत्रीय हवाई संपर्क (उड़ान) योजना के तहत विकसित किए गए इस हवाईअड्डे पर ईंधन भरने की सुविधा विकसित करने के लिए कंपनी का चयन नागर विमानन मंत्रालय ने 2018 में किया था। हवाईअड्डे को चालू करने के लिए कंपनी ने यहां ट्रक से ईंधन उपलब्ध कराने की सुविधा शुरू की है। कंपनी ने कहा कि स्थायी सुविधा 2020 के अंत तक शुरू हो जाएगी।

IOC का है 40 प्रतिशत बाजार पर कब्‍जा

आईओसी का देश के ईंधन बाजार के 40 प्रतिशत हिस्‍से पर कब्‍जा है। मध्‍य बिहार में दरभंगा शहर के बाहर यह हवाई अड्डा स्थित है और इसका परिचालन एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) द्वारा किया जा रहा है। आईओसी दुनिया के सबसे ऊंचे एयरपोर्ट लेह से लेकर अंडमान और निकोबार से लेकर पूरे देश में एविएशन रिफ्यूलिंग सुविधा का परिचालन करती है। य‍ह डेली 2000 से ज्‍यादा विमानों को ईंधन उपलब्‍ध कराती है। कंपनी का दावा है कि वह प्रति मिनट एक से अधिक विमान में ईंधन भरती है। इंडियन ऑयल एविएशन इंडियन डिफेंस सर्विसेस के साथ ही साथ वीवीआईपी विमानों को भी सभी एयरपोर्ट्स और हेलीपेड्स/हेली-बेस पर ईंधन उपलब्‍ध कराती है।

दिल्‍ली, मुंबई और बेंगलुरु से जुड़ेगा दरभंगा

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के अधिकारियों ने बताया कि दरभंगा अब दिल्‍ली, मुंबई और बेंगलुरु से सीधे जुड़ेगा। एयरपोर्ट शुरू होने से अब यहां के लोगों को पटना आने-जाने से छुटकारा मिलेगा और उनका 4 से 5 घंटे का समय बचेगा।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here