IND vs AUS: Brisbane Test पर खतरे के बादल, शहर में लगा 3 दिन का Lockdown


सिडनी: भारत और ऑस्ट्रेलिया (IND vs AUS) के बीच चौथा और आखिरी टेस्ट मैच ब्रिसबेन (Brisbane) में कराने के लिए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया बेताब है. लेकिन क्वींसलैंड प्रांत की राजधानी में 3 दिन के नए लॉकडाउन के कारण परेशानियां बढ़ गई हैं.

भारत और ऑस्ट्रेलिया के टॉप क्रिकेट अधिकारियों के बीच ब्रिसबेन (Brisbane) में मेहमान टीम को कड़े क्वारंटीन (Quarantine) नियमों से छूट दिए जाने के बारे में बातचीत होने के 24 घंटे से भी कम समय में लॉकडाउन (Lockdown) की घोषणा की गई. पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक चौथा टेस्ट 15 जनवरी से गाबा में खेला जाना है.

यह भी देखें- VIDEO: सर जडेजा की डायरेक्ट हिट, स्मिथ की शतकीय पारी का ऐसे हुआ अंत

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अधिकारी 3 दिन के लॉकडाउन के कारण अगले हफ्ते से गाबा (Gabba) में शुरू होने वाले चौथे टेस्ट मैच पर पड़ने वाले असर का आकलन करने की कोशिश कर रहे हैं. भारत के कड़े जैव सुरक्षा नियमों के कारण ब्रिस्बेन में खेलने को लेकर हिचकिचाहट से पहले ही इस मैच पर आशंका के बादल मंडरा रहे थे.

एक होटल में क्वारंटीन में रह रहे एक कर्मचारी के कोविड-19 के ज्यादा संक्रमण और ब्रिटेन में पाए गए नए स्ट्रेन की वजह से क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी का समापन गाबा में करने की उम्मीदों को झटका लगा है. क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने पहले ही 36000 दर्शकों को आने की इजाजत दे दी थी लेकिन बदली परिस्थितियों में इसमें बदलाव हो सकता है.

बीसीसीआई (BCCI) ने गुरुवार को क्रिकेट आस्ट्रेलिया को ब्रिसबेन में क्वारंटीन के कड़े नियमों से छूट दिलाने के लिए लिखा था. बीसीसीआई ने उसका ध्यान इस तरफ भी दिलाया कि भारतीय टीम ने दौरे के शुरू में सहमति के मुताबिक कड़े क्वारंटीन नियमों का पालन किया था. ब्रिसबेन में नियमों के अनुसार खिलाड़ियों को दिन के खेल के बाद अपने होटल के कमरों तक ही सीमित रहना होगा.

क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने भारत को मौखिक आश्वासन दिया है कि क्वींसलैंड सरकार के साथ एक समझौता हुआ है जिसके अनुसार खिलाड़ी और सहयोगी स्टाफ होटल के अंदर एक दूसरे से मिल सकते हैं लेकिन पता चला है कि बीसीसीआई लिखित आश्वासन चाहता है. अगर चौथा टेस्ट मैच ब्रिसबेन में नहीं हो पाता है तो फिर इस मैच का आयोजन सिडनी में ही किया जा सकता है.
(इनपुट-भाषा)





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *