IND vs AUS Sydney Test: Steve Smith ने Pitch को पहुंचाया नुकसान, ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने डाला गुनाह पर पर्दा


नई दिल्ली: नई दिल्ली: भारत और ऑस्ट्रेलिया (IND vs AUS) के बीच सिडनी टेस्ट का 5वें दिन स्टीव स्मिथ (Steve Smith) शर्मनाक हरकत की. उनके गुनाह पर ऑस्ट्रेलिया की मीडिया ने उनके इस गुनाह पर पर्दा डालने की कोशिश की. शायद स्थानीय मीडिया अपने मुल्क के क्रिकेटर को बचाने की कोशश कर रही थी.

पिच के दुश्मन स्मिथ

मैच की चौथी पारी के दौरान जब ड्रिंक्स ब्रेक हुआ तब ऋषभ पंत (Rishabh Pant) पिच छोड़कर पानी पीने चले गए. इसी दौरान स्टीव स्मिथ (Steve Smith) ने मौका पाकर अपने जूते से पिच को नुकसान पहुंचाया. ऑस्ट्रेलियाई टीम विकेट निकालने के लिए जद्दोजहद कर रही थी, तब स्मिथ ने अपने गेंदबाजों की मदद करने की कोशिश में ये हरकत कर दी.

नहीं छिप सका गुनाह

स्टीव स्मिथ (Steve Smith) की ये हरकत स्टंप्स में लगे कैमरे में कैद हो गई, लेकिन ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने इसे छिपाने की कोशिश की और इस दौरान टीवी पर पुराने फुटेज दिखाए जाने लगे. इसके बावजूद स्मिथ का गुनाह छिप नहीं पाया, क्योंकि ऑस्ट्रेलिया के बाहर जो टेलीविजन फीड मिल रही थी उसमें स्मिथ द्वारा पिच (Pitch) को नुकसान पहुंचाते हुए साफ देखा जा सकता था. हालांकि क्रीज पर लौटते पंत ने अपने बल्ले से पिच के हिस्से को फिर से समतल कर दिया.
 

हो सकती है कड़ी कार्रवाई

स्टीव स्मिथ ने जो किया वो आईसीसी की आचार संहिता (ICC Code of Conduct) के अनुच्छे 2.10 तहत अपराध माना जाता है. इसे ‘अनुचित खेल’ की कैटेगरी में रखा जाता है. नियम में कहा गया है कि,’जो फील्डर जानबूझकर और टालने योग्य तरीके से पिच को नुकसान पहुंचाता है उसे लेवल 1 या लेवल 2 का अपराध माना जाएगा.’ आईसीसी के संज्ञान में आते ही इस ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी को सख्त सजा दी जा सकती है.

2 साल पहले बॉल टैंपरिंग में फंसे
आईसीसी के नियम तोड़ना स्टीव स्मिथ के लिए कोई नई बात नहीं है. साल 2018 में वो बॉल टैंपरिंग विवाद (2018 Australian Ball-Tampering Scandal) विवाद में फंस चुके हैं. जो सैंडपेपरगेट स्कैंडल (Sandpapergate Scandal) के नाम से भी जाना जाता है.

गंवा चुके हैं कप्तानी
जिस वक्त बॉल टैंपरिंग विवाद हुआ था उस वक्त स्मिथ ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के कप्तान थे. इस हरकत की वजह से उन्हें अपनी कप्तानी से हाथ धोना पड़ा था, साथ उन्हें एक साल के लिए क्रिकेट खेलने से बैन कर दिया गया था. उनके साथ इस अपराध में शामिल डेविड वॉर्नर (David Warner) और कैमरन बैनक्राफ्ट (Cameron Bancroft) पर भी प्रतिबंध लगाया गया था.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *