IRCTC को जून तिमाही में हुआ 25 करोड़ रुपये का नुकसान, लॉकडाउन का असर


Photo:PTI

IRCTC को पहली तिमाही में 25 करोड़ रुपये का घाटा

नई दिल्ली। कोरोना संकट की वजह से लगे लॉकडाउन से  आईआरसीटीसी घाटे में आ गई है। तिमाही नतीजों के मुताबिक अप्रैल से जून की अवधि में कंपनी को 24.6 करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ा है। पिछले साल की इस अवधि के दौरान कंपनी को 72.33 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। वहीं मार्च तिमाही में कंपनी ने 150 करोड़ रुपये का फायदा दर्ज किया था। कंपनी इंडियन रेलवे की कैटरिंग, टूरिज्म और टिकटिंग का काम देखती है वहीं कंपनी अन्य टूरिज्म सेवाओं से भी जुड़ी है।

मार्च के बाद से रेल सेवाओं पर लगे प्रतिबंध धीरे धीरे हटाए जा रहे हैं, हालांकि अभी भी अधिकांश सामान्य यात्री सेवाओं पर रोक लगी हुई है। मार्च तिमाही के दौरान मालगाड़ी और विशेष ट्रेन को छोड़कर बाकी सभी यात्री सेवाएं बंद रही थीं। इस वजह से कंपनी की आय पर बुरा असर देखने को मिला है। तिमाही के दौरान आईआरसीटीसी की ऑपरेशंस से आय 71 फीसदी घटकर 131.33 करोड़ रुपये रही है। पिछले साल की इसी अवधि में आईआरसीटीसी को 459 करोड़ रुपये की आय हुई थी। तिमाही के दौरान कंपनी के सभी सेग्मेंट में तेज नुकसान देखने को मिला है। हालांकि सबसे ज्यादा गिरावट टूरिज्म सेग्मेंट में दर्ज हुई। टूरिज्म सेग्मेंट की आय पिछले साल के 47.62 करोड़ रुपये से घटकर 2.95 करोड़ रुपये रह गई है।

वहीं कैटरिंग से आय करीब पिछले साल के मुकाबले 272 करोड़ रुपये से गिरकर 90 करोड़ रुपये रह गई है। वहीं इंटरनेट के जरिए टिकट की बुकिंग 82 करोड़ रुपये से घटकर 35.22 करोड़ रुपये रह गई है। इसके साथ ही रेल नीर से आय पिछले साल के मुकाबले 57 करोड़ रुपये से घटकर 3.25 करोड़ रुपये के स्तर पर आ गई। हालांकि इस अवधि के दौरान कंपनी की अन्य आय में बढ़त दर्ज हुई है। अन्य आय पिछले साल के मुकाबले 17 करोड़ रुपये से बढ़कर 25 करोड़ रुपये पहुंच गई है।   





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *